इस राज्य की राजधानी में कोरोना रोकने के लिए फिर से होगा Lockdown? CM ने दिया ये बयान

इस राज्य की राजधानी में कोरोना रोकने के लिए फिर से होगा Lockdown? CM ने दिया ये बयान

बेंगलुरु: कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते ही जा रहे हैं. ऐसे में कर्नाटक के सीएम वीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को मंत्रियों और सीनियर अधिकारियों के साथ मीटिंग की. ये मीटिंग बेंगलुरु में कोरोना के फैलाव को रोकने के मुद्दे पर हुई. उन्होंने अधिकारियों को बेंगलुरु में कोरोना वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) के उपायों को लागू करने का निर्देश दिया. 

मीटिंग में सीएम ने बेंगलुरु में बढ़ने वाले केसों को रोकने के लिए रोकथाम संबंधी उपायों को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए.  

उन्होंने निर्देश दिया कि जिन क्लस्टर्स में ज्यादा केस सामने आए हैं, वहां लॉकडाउन किया जाएगा. खासतौर पर केआर मार्केट और उसके आस-पास के क्षेत्रों जैसे सिद्दापुरा, वीवीपुरम और कालासिपल्या. 

मीटिंग में ये भी तय किया गया कि जिन जगहों पर कोरोना के मामले सामने आए हैं, उनके आसपास की सड़कें सीज की जाएंगी. जो लोग क्वारंटाइन नियमों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और FIR दर्ज की जाएगी. 

इसके अलावा अधिकारियों को ये निर्देश दिए गए कि वह प्राइवेट हॉस्पिटल में कोरोना के इलाज के रेट तय करें. बैठक में सभी वार्डों में 'बुखार क्लीनिक' स्थापित करने का भी निर्णय लिया गया. 

मीटिंग में अधिकारियों को ये भी निर्देश दिए गए कि जो लोग सोशल वेलफेयर हॉस्टल्स और सरकारी इंस्टीट्यूशन्स में क्वारंटाइन किए गए हैं, उनके लिए हाइजीन और बेसिक व्यवस्थाएं होनी चाहिए. 

सीएम येदियुरप्पा ने कहा कि बेंगलुरु में आर्थिक गतिविधियों को रोके बिना ही COVID-19 की रोकथाम की जानी चाहिए. मीटिंग में ये भी कहा कि बूथ लेवल के अधिकारी और कार्यकर्ता क्वारंटाइन में लोगों को ट्रेस और मॉनीटर कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि वार रूम में विभिन्न COVID अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता के बारे में वास्तविक समय की जानकारी होगी और संक्रमितों को बिना समय गंवाए उपचार की सुविधा प्रदान की जाएगी.