चीन की अतिक्रमण नीति पर अमेरिका का कड़ा 'प्रहार', सख्त बयान जारी कर दी हिदायत

चीन की अतिक्रमण नीति पर अमेरिका का कड़ा 'प्रहार', सख्त बयान जारी कर दी हिदायत

नई दिल्ली: चीन (China) अब ग्लोबल स्तर पर चारों तरफ से घिर रहा है. अमेरिका (America) ने साफ तौर पर कहा है कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी दुनिया (World) के लिए खतरा है. अमेरिका (America) के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो (Mike Pompeo) ने कहा कि चीन ने साउथ चाइना सी में अतिक्रमण किया है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

चीन को गलवान की भूल बहुत भारी पड़ने जा रही है, क्योंकि जबसे भारत ने चीन के खिलाफ सरहद से लेकर बाजार के बहिष्कार वाला मोर्चा खोला है, तभी से चीन   ग्लोबल गठबंधन के शिकंजे आ रहा है. अमेरिका ने बहुत सख्त बयान में चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को दुनिया के लिए खतरा करार दिया है.

माइक पोम्पियो ने पिछले हफ्ते चीन के खिलाफ गठबंधन बनाने की बात कही थी और अब जिस तरह से साउथ चाइना सी को लेकर अमेरिका ने चीन को सीधी चुनौती दी है, उससे चीन और कम्युनिस्ट पार्टी को बहुत साफ संदेश मिल चुका है.

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ये बयान ऐसे वक्त में दिया है जब दोनों देशों की सेनाएं साउथ चाइना सी में युद्धाभ्‍यास कर रही हैं और तनाव काफी बढ़ा हुआ है.

पोम्पियो के इस ऐलान के बाद अब ये साफ हो गया कि अमेरिका साउथ चाइना सी में ब्रुनई, इंडोनेशिया, मलेशिया, फीलीपीन्‍स और वियतनाम का पक्ष लेगा जो चीन के दादागीरी का विरोध कर रहे हैं.