नासिर हुसैन ने रोहित शर्मा को बताया ऑस्ट्रेलिया में सफलता का मंत्र, जानिए क्या कहा

नासिर हुसैन ने रोहित शर्मा को बताया ऑस्ट्रेलिया में सफलता का मंत्र, जानिए क्या कहा

नई दिल्ली: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन (Nasser Hussain) ने भारतीय टेस्ट टीम के ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को ऑस्ट्रेलिया में सफल होने के लिए एक सुझाव दिया है. हुसैन के अनुसार अगर रोहित को आने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सफल होना है तो उन्हें कुछ चीजों का ध्यान रखना होगा. ऑस्ट्रेलिया में रोहित की कामयाबी सबसे ज्यादा इस बात पर निर्भर करेगी कि वो पारी की शुरूआत के पहले आधे घंटे में किस प्रकार का प्रदर्शन करते हैं. रोहित अगर सावधानी से बल्लेबाजी करके अपनी विकेट बचा लेते हैं तो उन्हें बड़ा स्कोर खड़ा करने से कोई नहीं रोक पाएगा.

गौरतलब है कि इस साल के अंत में टीम इंडिया (Team India) ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर जाएगी. दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट मैच ब्रिस्बेन में खेला जाएगा, वहीं दूसरा टेस्ट एडिलेड में और तीसरा और चौथा टेस्ट मेलबर्न और सिडनी में आयोजित किया जाएगा. इस सीरीज में रोहित शर्मा पहली बार विदेशी जमीन पर एक टेस्ट ओपनर की भूमिका में नजर आएंगे और अगर वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रन बनाने में कामयाब हो जाते हैं तो ये उनके करियर के लिए मील का पत्थर साबित होगा. शायद ही उन्हें खुद को साबित करने का इससे अच्छा अवसर नहीं मिलेगा.

हुसैन ने एक खेल चैनल के साथ बातचीत के दौरान कहा, 'अगर रोहित शर्मा टेस्ट मैच के सलामी बल्लेबाज नहीं हैं, तो मैं शायद एक अलग खेल देखूंगा. आप अगर मौजूदा दौर के क्रिकेटर्स से उनके पसंदीदा खिलाड़ी के बारे में पूछेंगे तो उनमें से कई रोहित शर्मा का नाम लेंगे. इस दौर के खिलाड़ी रोहित की बल्लेबाजी देखकर कहते है कि इसके पास शॉट लगाने के लिए काफी समय होता है.'

हुसैन ने आगे कहा, 'टेस्ट क्रिकेट में शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को क्रीज पर समय बिताना होता है, यहां तकनीक की भी जरूरत होती है. आपको अपने ऑफ स्टंप का वैसे ध्यान रखना होता है जैसे विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के पिछले दौरे पर जेम्स एंडरसन (James Anderson) के खिलाफ किया था. इससे वह इंग्लैंड के पहले के दौरे की असफलता से उबरने में सफल रहे थे, यह टेस्ट क्रिकेटर की पहचान है. भारतीय टीम जब विदेशी दौरे पर जाए और गेंद स्विंग हो तो रोहित को भी ऐसा ही करना होगा. उसे सिर्फ आधा घंटा बिताना है और गेंदबाज से कहना है कि मैं अगले आधे घंटे तक स्लिप में खड़े खिलाड़ी की भूमिका को खत्म कर दूंगा.'