पश्चिम बंगाल: बीजेपी विधायक का फंदे से लटका मिला शव, सुसाइड नोट में दो लोगों को ठहराया जिम्मेदार

पश्चिम बंगाल: बीजेपी विधायक का फंदे से लटका मिला शव, सुसाइड नोट में दो लोगों को ठहराया जिम्मेदार

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिले से बीजेपी विधायक देबेन्द्र नाथ रॉय (Debendra Nath Roy) की मौत हो गई है. उनका शव बिंदल गांव में उन्हीं घर से करीब एक किलोमीटर दूर, एक दुकान के बाहर फांसी से लटका हुआ पाया गया है. विधायक के परिवार और बीजेपी के लोगों का दावा है कि देबेंद्र को पहले मारा गया और उसके बाद उन्हें फंदे पर लटकाया गया है. हालांकि, पुलिस का कहना है कि मौत का कारण आत्महत्या है या हत्या, ये पोस्टमार्टम के बाद ही पता चलेगा.

बंगाल के भाजपा राज्य संयुक्त महासचिव अमिताव चक्रवर्ती ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ये जानकारी साझा की है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'देबेन्द्र नाथ रे भाजपा विधायक हेमताबाद, उत्तर दिनाजपुर का शव बिंदाल गांव में लटका हुआ पाया गया. लोगों का स्पष्ट मत है कि उसे पहले मारा गया और फिर लटका दिया गया'.

पुलिस ने छानबीन के बाद बताया कि मृतक विधायक की शर्ट की जेब से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें दो लोगों को उनकी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है. पुलिस ने बताया कि जांच के लिए डॉग स्क्वॉड, फोरेंसिक विशेषज्ञों की टीम आदि की सहायता ली जा रही है. साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए रायगंज अस्पताल में भेज दिया गया है.

पुलिस ने लोगों से अनुरोध किया कि वे पक्षपातपूर्ण और निर्णय संबंधी निष्कर्षों पर ना जाएं और जांच पूरी होने की प्रतीक्षा करें. बताते चलें कि रॉय पहले सीपीआई (एम) के विधायक थे, लेकिन उन्होंने शिविरों को बदल दिया था और 2019 में भाजपा में शामिल हो गए थे. उनका जुड़ाव दिल्ली में वरिष्ठ भाजपा नेताओं की उपस्थिति में हुआ. इस समय वो दिनाजपुर जिले में हेमताबाद से बीजेपी विधायक थे.