सोने की कीमतों में रिकॉर्ड तेजी, पहली बार 50 हजार रुपये के पार

सोने की कीमतों में रिकॉर्ड तेजी, पहली बार 50 हजार रुपये के पार

नई दिल्लीः सोने-चांदी की कीमतों (Gold Silver prices) में बड़ा उछाल देखने को मिला है. पहली बार कीमत 50 हजार रुपये के पार चली गई है. वहीं चांदी की कीमत सात साल के उच्चतम स्तर पर चली गई है. कीमतों में इस उछाल की वजह से अब इन कीमती धातुओं को खरीदने में रुचि काफी कम हो गई है. वायदा सहित वैश्विक बाजार में सोने चांदी की कीमतों में बढ़त जारी है.

वैश्विक बाजारों में सोने का भाव नौ साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है. गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार (Delhi Bullion Market) में 24 कैरेट सोने का हाजिर भाव 50552 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया. सोने का भाव कल के मुकाबले 371 रुपये ज्यादा है. वहीं चांदी 1416 रुपये प्रति किलो महंगी होकर 60585 रुपये प्रति किलो के रेट से खुला.

वायदा बाजार में भी दिखी तेजी
गुरुवार को वायदा बाजार में सोने के दाम 0.12 फीसदी यानी 62 रुपये की बढ़त के साथ 50,196 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गए हैं. वहीं चांदी 0.67 फीसदी यानी 408 रुपये लुढ़ककर 60,707 रुपये प्रति किलो पर आ गई है. कोरोना वायरस महामारी बढ़ने की वजह से आर्थिक स्थितियां और बदतर हो रही हैं. लिहाजा निवेशक सुरक्षित निवेश के लिए सोने में निवेश कर रहे हैं. 

वैश्विक बाजार में नौ साल का उच्चतम स्तर
गुरुवार को वैश्विक बाजार में सोना नौ साल की रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया है. गुरुवार को वैश्विक बाजार में सोना हाजिर 0.1 फीसदी की मजबूती के साथ 1872 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया. वहीं गोल्ड फ्यूचर 0.2 फीसदी मजबूत हुआ और यह 1869.30 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया. 

केवल ये लोग खरीद रहे हैं सोना
हमारी सहयोगी वेबसाइट zeebiz.com के अनुसार, शेयर बाजार में  गिरावट और अर्थव्यवस्था में संकट के दौर में तमाम फंड मैनेजर पोर्टफोलियो में सोने की हिस्सेदारी बढ़ाते हैं. इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि सोना सेफ हैवन इन्वेस्टमेंट (Safe Heaven Investment) यानी सुरक्षित निवेश विकल्प माना जाता है. केंद्रीय बैंक, फंड मैनेजर्स, स्वतंत्र निवेशक आदि ये सभी लोग पूरी दुनिया में अलग अलग एक्सचेंज पर सोने की खरीदारी कर रहे हैं. सोने के भाव अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी रिकॉर्ड उंचाई पर है. इसी वजह से भारत में सोने में तेजी देखने को मिल रही है.

एक ग्राम सोना बेचने में भी दिक्कत
हालांकि खुदरा निवेशकों को एक ग्राम सोना बेचने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है. फिलहाल सोने के भाव इस कदर बढ़ गए हैं कि न तो खुदरा निवेशक इसको बेच पा रहे हैं और न ही खरीद पा रहे हैं. खरीदारों को अभी खरीदने के लिए इंतजार करना पड़ेगा. 

क्यों बढ़ रहे हैं सोने के भाव
HDFC सिक्योरिटी के कमोडिटी एनालिस्ट तपन पटेल के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमतें बढ़ने से घरेलू बाजार में सोने के दाम बढ़ रहे हैं. करोनो वायरस के नए मामले आने के बाद सोने को लेकर सेफ इन्वेस्टमेंट खरीदारी तेजी से बढ़ी है. इक्विटी मार्केट से पैसा निकालकर निवेशक सोने में निवेश कर रहे हैं. हालांकि, इक्विटी में नए निवेशक बढ़े हैं. 

वैक्सीन आने पर सस्ता होगा सोना
कमोडिटी एक्सपर्ट्स का मानना है कि सोने की कीमतों में फिलहाल गिरावट मुमकिन नहीं है. सोने के भाव तब कम होंगे, जब मार्केट में कोरोना वायरस की वैक्सीन आ जाएगी. साथ ही उसके सफल परिणाम भी सामने होंगे. अगर भारत और चीन सोना नहीं खरीदते हैं तो दाम कुछ और कम हो सकते हैं. सोना यहां से 6000 रुपए प्रति दस ग्राम तक सस्ता हो सकता है.